उत्तर प्रदेशगाज़ियाबादनई दिल्ली

हिंदी खबर यूट्यूब चैनल के कर्ता धर्ताओ को अब न्यायालय में जवाब देना होगा_महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी

मैने अभी क्रॉसिंग थाना देखा भी नही बिना तथ्यों के मेरी छवि खराब करने के लिए मुझे क्रोसिंग थाने का बना दिया गैंगस्टर, गुंडा व हिस्ट्रीशीटर-अनिल यादव(छोटे नरसिंहानंद)

महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी महाराज ने प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि खारकर गाजियाबाद और एन सी आर में खबरिया चैनल हिन्दी खबर की आड़ में अवैध धन उगाही का खेल जोर शोर से चल रहा है। ऐसी एक घटना गाजियाबाद के वेव सिटी थाना क्षेत्र में 24 मई को भी हुई। जिसमे ग्रामीण अपने भवनों का निर्माण करवा रहे थे, वहां हिन्दी खबर के कर्मचारियों ने चोरी छुपे वीडियो बनाना शुरु कर दिया। इस दौरान काफी संख्या में ग्रामीण जमा हो गए। ग्रामीणों ने हिन्दी खबर के कर्मचारियों से चोरी छुपे वीडियो बनाने का कारण पूछा तो कर्मचारियों ने कहा कि इस निर्माण को अवैध बताकर कार्रवाई करवाई जाएगी, यदि कार्रावई से बचना चाहते हो तो जो लोग यह निर्माण करवा रहे हैं, उनसे सुविधा शुल्क दिलवाओ। जब ग्रामीणों ने कर्मचारियों को बताया कि यह निजी निर्माण हैं और नियमों के तहत ही हो रहे हैं, तब भी कर्मचारी नहीं मानें और गाली गलौज पर उतर आए। सोर सुनकर मेरे शिष्य राजेश यादव और अनिल यादव मौके पर पहुँचकर इनका छूट छुटव कराया चूंकि घटना राजेश यादव के ऑफिस के बाहर की थी।घटना के बाद खबरिया चैनल की कर्मचारियों की शिकायत और दबाव में पुलिस ने लूट में मुकदमा भी दर्ज कर लिया।जबकि सीसीटीव में सारी घटना स्प्ष्ट रूप से कैद हो गयी है। खबरिया चैनल हिन्दी खबर के कर्मचारी इससे पहले भी गाजियाबाद और नोएडा में धन उगाही में विफल रहने पर मारपीट और लूटपाट के मुकदमे दर्ज कर वला चुके हैं। हिन्दी खबर के मालिक अतुल अग्रवाल पर भी इस प्रकार के कई मुकदमे दर्ज हैं। जून 2021 में बाबा राम देव ने भी अतुल अग्रवाल पर रंगदारी का मुकदमा दर्ज कराया था।अतुल अग्रवाल व एंकर प्रिया राणा के इस्लामिक जिहादियों से बहुत मजबूत गठजोड़ है प्रशाशन को इसकी जाँच करनी चाहिए।ये केवल मुकदमा करने तक सीमित नही बल्कि इसके पीछे इस्लामिक जिहादियों की दूसरी मंशा हो सकती है।

राजेश पहलवान वार्ड नंबर 42 से पार्षद श्रीमती प्रमोश यादव के पति हैं,जिनका बस सर्विस का बहुत पुराना बिजनेस है लेकिन जिस प्रकार उन्हें भू माफिया बताकर फसाने और बदनाम करने की कोशिश की जा रही है इसके पीछे कोई ना कोई गहन षड्यंत्र है,बिना तथ्यों के जो उनके ऊपर आरोप लगाए जा रहे हैं वह बिल्कुल झूठे व निराधार हैं।
अनिल यादव मेरी विचारधारा के उत्तराधिकारी है और पिछले 15 वर्ष से मेरे साथ हिंदुओं की लड़ाई लड़ रहे हैं,उन्हें सभी छोटे नरसिंहानंद कहते हैं वह एक समाचार पत्र व हिंदी पत्रिका के संपादक भी हैं और मंदिर में ही अखाड़ा चलाते है, जिस प्रकार से अनिल यादव पर गैंगस्टर ,गुंडा एक्ट, हिस्ट्री सीटर व भूमाफिया के आरोप लगाये जा रहे हैं और इसके साथ गैंगरेप का भी मामला अनिल यादव पर बताया जा रहा है उसके पीछे कोई सच्चाई नहीं है। बिना तथ्यों के अनिल यादव की छवि को बदनाम और बेइज्जत करने की कोशिश की है। अतुल अग्रवाल प्रिया राणा और वो तमाम लोग जिन्होंने उनके चैनल पर बैठकर इस तरह की बातें की हैं इनके ऊपर मानहानि व भावनाओं को आहत करने से लेकर तमाम मुकदमे दर्ज कराए जाएंगे।उन्हे अब न्यायालय में इसका जबाव देना पड़ेगा।

प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए अनिल यादव ने कहा कि जिस प्रकार के बेबुनियादी और बिना तथ्यों के इल्जाम मुझ पर लगाए जा रहे हैं चाहे वह माफिया हो गुंडा एक्ट हो या गैंगस्टर हो हिस्ट्री शीट हो उनके तथ्य भी मुझे चाहिए,कौन सा मुकदमा मुझ पर दर्ज है और गैंगरेप के मुकदमे की कॉपी भी उपरोक्त लोगों से जरूर मांगूंगा यह मेरी छवि को धूमिल करने और मुझे बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। बार-बार क्रॉसिंग थाने का उपरोक्त लोग जिक्र करते हैं अभी तक मैं क्रॉसिंग थाने को देखा भी नहीं है लेकिन इन्होंने मुझे उसे थाने का हिस्ट्री सीटर घोषित कर दिया। निश्चित रूप से उनके साथ खासकर प्रिया राणा इस्लामीक जिहादियों के साथ घूमती और रहती है इसके पीछे कोई ना कोई गहन षड्यंत्र है।इसकी जिम्मेदारी प्रशासन को लेनी होगी।प्रेसवार्ता में हितेश चोधरी, पंकज आदि मौजूद रहे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button