उत्तर प्रदेश

सीएचसी मे भर्ती पीड़ित किसान

बागपत

चकबंदी विभाग से परेशान एक किसान ने बड़ौत तहसील परिसर मे जहरीला पदार्थ खा लिया किसान की हालत गंभीर बनी हुई है और जिला अस्पताल मे भर्ती कराया गया है  चकबंदी अधिकारियो पर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगा है किसान कई वर्षो से जमीन की पैमाइश को लेकर बड़ौत चकबंदी कार्यालय मे अधिकारियो के चक्कर काट रहा है जनपद बागपत के बड़ौत तहसील क्षेत्र के बामनोली गांव मे करीब दो दशक से चकबंदी चल रही है करीब एक दर्जन से अधिक किसान आज भी भूमि अधिकार को लेकर चकबंदी  अधिकारियो के चक्कर काट रहे है जिसमे कुछ किसान ऐसे भी है जिनको कागजो मे जमीन दे दी गयी है लेकिन धरातल पर उन्हे कोई कब्जा नही दिया गया है मंगलवार को बामनोली निवासी किसान अनुज  बड़ौत तहसील पहुंचा और चकबंदी अधिकारियो से अपनी समस्या बताई

आरोप है कि चकबन्दी अधिकारियो ने किसान के साथ गलत व्यवहार किया जिससे परेशान होकर किसान अनुज ने जहरीला पदार्थ खा लिया किसान अनुज के भाई ने बताया कि यह मेरे ताऊ जी का लड़का है इनका नाम अनुज है इनकी जमीन करीब 2/13 बीघा है 3 चक ( खेत ) है और आज तक इन्हे किसी भी खेत पर कोई कब्जा नही मिल पाया वर्ष 2016 से  ऐसीओ (अपर चकबंदी अधिकारी ) के पास जाता है सबको इसने प्रार्थना पत्र दिया लेकिन आज तक ना तो नपाई हुई ना कब्जा मिला इसके ऊपर 9 लाख रूपये का बैंक का कर्ज हो चुका है ( किसान क्रेडिट कार्ड ) कर्ज के 3 नोटिस आ चुके है इसके पास अब इसकी जमीन कुर्क होने के नंबर पर आ गयी ये रोज हाथ जोड़ता है लेकिन फिर भी इसकी जमीन की नपाई के लिये ऐसीओ ने मना कर दिया मंगलवार को जब अनुज ऐसीओ के पास पहुंच तो उन्होने कहा कि तूने सर मे दर्द कर दिया यह सुनकर अनुज ने कुछ नशीला पदार्थ खा लिया है और अस्पताल मे भर्ती है जहा पर उसकी हालत नाजुक बनी हुई है किसान द्वारा उठाए गए इस कदम से बड़ौत तहसील के अधिकारियो मे हड़कंप मच गया आनन फानन मे एंबुलेंस बुलाई गई और किसान को बड़ौत सीएचसी मे भर्ती कराया गया जहा से उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया है जहा पर उसकी हालत नाजुक बनी हुई है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button